69000 shikshak bharti news hindi | updatemart

69000 shikshak bharti news hindi

प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए 69000 shikshak bharti प्रतियोगिता परीक्षा हुए लगभग 1 साल बीत गए लेकिन अभी तक 69000 shikshak bharti परीक्षा का परिणाम घोषित नहीं हो सका है।
69000 shikshak bharti परीक्षा में लागू किए गए नए कटऑफ को लेकर यह भर्ती प्रक्रिया अभी तक रुकी हुई है।
69000 shikshak bharti news hindi
69000 शिक्षक भर्ती

क्या है 69000 shikshak bharti cutoff मामला

सबसे पहले कट ऑफ की शुरुआत 68500 Shikshak Bharti में लागू किया गया था जिसमें 33-33 और 45-40 पर विवाद चलता रहा। उसके बाद 69000 Shikshak Bharti परीक्षा में भी कटऑफ को लागू कर दिया गया लेकिन कटऑफ को 65-60 पर रखा गया।

68500 Shikshak Bharti Latest News

69000 Shikshak Bharti प्रक्रिया को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 15 फरवरी 2019 तक पूरा करने का वादा किया था परंतु ऐसा हो ना सका और यह भर्ती परीक्षा कट ऑफ मामले को लेकर अदालतों के चक्कर काट रही है।

69000 Shikshak Bharti news today

अप्रैल 2020 से प्राथमिक स्कूलों में नए शैक्षिक सत्र प्रारंभ होने वाले हैं ऐसे में 69000 Shikshak Bharti प्रक्रिया अगर फरवरी माह तक पूरी नहीं हुई तो प्राथमिक स्कूलों में शैक्षिक गुणवत्ता को बनाए रखने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने 69000 Shikshak Bharti प्रक्रिया को दिसंबर 2018 में मंजूरी दी थी। और परीक्षा 6 जनवरी 2019 में करवाई गई थी जिसमें 4 लाख अभ्यर्थी शामिल थे। 69000 Shikshak Bharti परीक्षा के पहले तक कटऑफ का जिक्र नहीं किया गया था लेकिन परीक्षा के अगले ही दिन सरकार ने सामान्य वर्ग के लिए 65% और आरक्षित वर्ग के लिए 60% कटऑफ अंक निर्धारित कर दिया।

सरकार के इस आदेश के बाद से ही शिक्षक भर्ती परीक्षा में कटऑफ का विवाद शुरू हो गया। कटऑफ विवाद को एक पक्ष समर्थन दे रहा है जबकि दूसरा पक्ष इसके विरोध में खड़ा हो गया है। कट आफ विरोधी शिक्षामित्र ग्रुप ने सरकार के खिलाफ आपत्ति जताई और उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर कटऑफ अंक को वापस लेने की गुहार लगाई।
69000 shikshak bharti update

69000 Shikshak Bharti update

69000 Shikshak Bharti में कटऑफ विवाद को देखते हुए न्यायालय ने कटऑफ को घटाकर 45 फ़ीसदी सामान्य वर्ग और 40 फ़ीसदी आरक्षित वर्ग के लिए कर दिया।
8 महीने बीत जाने के बाद भी यह विवाद लगातार चलता ही जा रहा है। 69000 Shikshak Bharti में कटऑफ का यह विवाद 4 लाख अभ्यर्थियों के लिए मानसिक उत्पीड़न का विषय बना हुआ है।

22 मई 2019 को यह विवाद डबल बेंच चली गई जिसकी सुनवाई 8 महीने बाद भी पूरी ना हो सकी।
इस प्रकार सरकार द्वारा वादे तो कर दिए गए कि 69000 Shikshak Bharti को जल्द से जल्द पूरी करवा ली जाएगी परंतु यह वादा कभी पूरा न हो सका।

69000 shikshak bharti पर Basic shiksha mantri के बोल

69000 shikshak bharti पर Basic shiksha मंत्री ने कहा कि सरकार 69000 शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को 65-60 फ़ीसदी कटऑफ अंक पर भर्ती करने के लिए कटिबद्ध है। सरकार का कहना है कि योग्य अभ्यर्थियों के साथ किसी भी प्रकार का अन्याय नहीं किया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments