बेसिक/माध्यमिक शिक्षकों का सामूहिक अवकाश | updatemart

आज शिक्षकों का सामूहिक अवकाश | updatemart

बेसिक शिक्षा परिषद और माध्यमिक स्कूलों के शिक्षक आज दिन मंगलवार को सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। सामूहिक अवकाश पर रहने का निर्णय उन्होंने कल ही ले लिया था। शिक्षकों की समस्याओं का समाधान और उनकी मांगे पूरी ना होने से वह नाराज चल रहे हैं, जिसके कारण जिला स्तर पर आज प्रदर्शन भी करने की योजना बना रहे हैं।

सख्त कार्रवाई के आदेश

शिक्षकों के सामूहिक अवकाश का सबसे बड़ा असर स्कूल में पठन कार्य पर दिखेगा। बच्चों का शिक्षण व्यवस्था बाधित ना हो इसलिए मुख्य सचिव ने डीएम  और बीएसए को पठन पाठन सुचारू रूप से चलाने के आदेश दिए हैं। अगर शिक्षण प्रक्रिया में किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न होती है तो सख्त कार्यवाही के भी आदेश जारी कर दिए गए हैं।

अपनी समस्याओं और मांगों को लेकर नाराज चल रहे शिक्षकों ने बताया कि हमने पिछले वर्ष 5 सितंबर को "शिक्षक सम्मान बचाओ अभियान" चलाकर सरकार का विरोध किया लेकिन सरकार ने को कारवाही नहीं की।

इसी कारण से शिक्षकों ने 21 जनवरी को सामूहिक अवकाश लेने का निर्णय लिया है तथा सभी सरकारी दफ्तरों के सामने धरना प्रदर्शन भी करेंगे।

आलोक सिंह चौहान उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष ने भी इस सामूहिक अवकाश का समर्थन किया।

बेसिक शिक्षकों की हड़ताल


सामूहिक अवकाश के निर्णय पर बेसिक शिक्षा परिषद के अधिकारियों ने शिक्षण कार्य में व्यवधान उत्पन्न करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के सख्त निर्देश दिए हैं।

क्या है शिक्षकों की मांग?

प्रेरणा एप्प और चयन बोर्ड अधिनियम की धारा 18 के विरोध में सभी शिक्षक आंदोलन कर रहे हैं।
 चयन बोर्ड की धारा 18 के अंतर्गत प्रबंधक शिक्षकों को दंड के लिए बिना आयोग की अनुमति के ही नोटिस दे सकता है। इसलिए शिक्षक चाहते हैं कि इस अधिनियम में बदलाव किया जाए।

Post a Comment

0 Comments