डेढ़ लाख रुपए तय थी यूपीटेट पेपर लीक करने की कीमत

डेढ़ लाख रुपए तय थी यूपीटेट पेपर लीक करने की कीमत uptet blogger update

इस बार यूपी टेट परीक्षा में एसटीएफ की टीम को खासा चौकन्ना रहने का निर्देश दिया गया था क्योंकि परीक्षा पुरानी सेंटर पर ही कराई जा रही थी जो कि 22 दिसंबर को तय थी। परीक्षा केंद्र बदलवाने की मांग की गई थी परंतु इसे नजरअंदाज कर दिया गया। लेकिन एसटीएफ की टीम को काम पर लगा दिया गया था ताकि सेंटर पर होने वाले किसी भी तरह के अनुचित गतिविधियों पर नजर रखा जा सके।
updatemart primary ka master

UPTET primary ka master latest news

डेढ़ लख रुपे तहत ही यूपी टेट पेपर लीक कराने की कीमत, यह खबर गाजीपुर जिले की है जहां का एक विद्यालय जिसका नाम बुद्धम शरणम इंटर कॉलेज है, वहां के प्रधानाचार्य ने तथा उनके सहयोगियों ने पेपर लीक कराने के लिए डेढ़ लाख रुपए कीमत तय की थी।

इस विद्यालय पर जैसे ही एसटीएफ की टीम छापा मारने पहुंची, विद्यालय के प्रधानाचार्य और उनके सहयोगी रंगे हाथ पकड़े गए। प्रधानाचार्य का नाम पारस सिंह कुशवाहा है जिनके मोबाइल में यूपीटेट की पेपर की फोटो मिली है जिनको वह अपने ऑफिस में बैठकर हल कर रहे थे ताकि पेपर को नकल के लिए आगे भेजा जा सके।
uptet paper leak uptet blogger

पारस सिंह कुशवाहा के अलावा उनके तीन सहयोगी चंद्रपाल, चंद्रभान तथा सियाराम यादव और अजीत कुशवाहा यूपी टेट पेपर को सामूहिक रूप से लिक करने का प्रयास करते हुए पकड़े गए। अजीत कुशवाहा के पास पेपर सेट सी और डी के 50 पेज बरामद किए गए।

UPTET paper download in hindi pdf

इसी कॉलेज का प्रधानाध्यापक पारस सिंह कुशवाहा वर्ष 2016 में भी पॉलिटेक्निक का पेपर लिक करवाने के आरोप में जेल जा चुका है। इसके हौसले इतने बुलंद हैं कि यह जेल जाने के बाद भी पेपर लीक करवाने से बाज नहीं आ रहा है।

UPTET paper leak in Prayagraj

प्रयागराज में भी पेपर लीक
प्रयागराज के कैंट और सिविल लाइंस के इलाके में एसटीएफ की टीम ने एक अन्य गिरोह को गिरफ्तार किया है। इस गिरोह में सदस्यों की संख्या 10 थी जिनके पास 10 मोबाइल और ₹10000 भी बरामद किया गया है।

एसटीएफ की टीम ने प्रयागराज में ही स्थित दूसरे इलाके धूमनगंज के मॉडल इंटर कॉलेज मैं एक उम्मीदवार को गिरफ्तार किया है जो किसी दूसरे व्यक्ति के स्थान पर परीक्षा दे रहा था। गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में पता चला कि युवक कौशांबी का रहने वाला है जिसका नाम धर्मराज भारती है।
uptet paper leak uptet blogger

प्रयागराज के सिविल लाइंस इलाके में ही स्थित एक कॉलेज में चंद्रमा सिंह जो कि एक भाजपा का नेता है, साथ ही साथ स्कूल का प्रबंधक भी है। उसके पास से ₹411000 रुपए, 220 सिम कार्ड, 180 मोबाइल और एक ब्लूटूथ डिवाइस बरामद हुआ है।

एसटीएफ की मानें तो इन बरामद हुए 180 मोबाइलों से नकल करवाने की पूरी व्यवस्था कर ली गई थी जिन विद्यार्थियों को नकल करवानी थी उन्हें यह मोबाइल परीक्षा प्रारंभ होने से डेढ़ घंटे पहले दे दिया जाता जिससे विद्यार्थी नकल करने में सफल हो जाते।

इसके अलावा भदोही, मैनपुरी, प्रतापगढ़ तथा आजमगढ़ जैसे जगहों पर भी नकल करवाने की कोशिश की गई, जिसको समय रहते एसटीएफ की टीम ने धर दबोचा।


updatemart primary ka master, basic shiksha parishad news, uptet ctet notes, primary ka master current news today के लिए आप मुझे फॉलो भी कर सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments