शिक्षकों पर अफसरी नहीं गांठ सकेंगे एआरपी | updatemart

शिक्षकों पर अफसरी नहीं गांठ सकेंगे एआरपी

Updatemart- शिक्षकों पर अपनी ऑफिसर्स वाली रौब नहीं झाड़ सकेंगे एआरपी अफसर। एआरपी अब सिर्फ स्कूलों में उपस्थित होकर शैक्षिक गुणवत्ता को सुधारने का कार्य करेंगे। एआरपी से अब स्कूलों में उपस्थिति जांचने का अधिकार छीन लिया जाएगा।

ARP updatemart

पहले ब्लॉक संसाधन केंद्रों पर कार्य करने वाले एबीआरसी विद्यालय के निरीक्षण के साथ-साथ शिक्षकों की उपस्थिति भी चेक किया करते थे तथा अनुपस्थित शिक्षकों के खिलाफ बेसिक शिक्षा अधिकारी को उचित कार्यवाही के लिए सूचित भी करते थे।

अब एबीआरसी का पद समाप्त कर दिया गया है और उनके स्थान पर एआरपी का गठन किया गया है। लेकिन एआरपी से विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों की उपस्थिति जांच करने का अधिकार नहीं दिया गया है।

एआरपी आवेदन की अंतिम तिथि

एआरपी के पदों पर चयन के लिए अंतिम तिथि 18 जनवरी तक ही तय की गई थी लेकिन इस समय तक सिर्फ 31 आवेदन ही आए थे इसलिए एआरपी के रिक्त पदों पर चयन की तिथि को 5 फरवरी तक कर दिया गया है।

सभी खंड शिक्षा अधिकारियों के अलावा हाल ही में नियुक्त हुए एआरपी अधिकारियों को 5-5 आवेदन कराने के लिए जिम्मा सौंपा गया है।

एआरपी को विद्यालयों में सिर्फ शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए रखा गया है। वे ना तो विद्यालय के किसी पंजिका में हस्ताक्षर करेंगे और ना ही विद्यालय में शिक्षक की उपस्थिति जांचेंगे।


Post a Comment

0 Comments