50 प्रतिशत से कम अंक तो सरकारी सुविधा नहीं | updatemart

50 प्रतिशत से कम अंक तो सरकारी सुविधा नहीं

उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में छात्रों के साथ-साथ अब शिक्षकों का भी रिपोर्ट कार्ड तैयार किया जाएगा। इसी रिपोर्ट कार्ड के आधार पर यह तय किया जा सकेगा कि शिक्षक को सरकारी सुविधाएं मिलनी चाहिए या फिर नहीं मिलनी चाहिए।

शिक्षकों की वार्षिक गोपनीय रिपोर्ट ACR अब विभिन्न वर्गों के शिक्षकों को मिलने वाले नंबर के आधार पर तैयार की जाएगी। यह पहल बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से पहली बार की जा रही है।

Acr report

वार्षिक गोपनीय रिपोर्ट के संबंध में अपर सचिव रेणुका कुमार का आदेश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के पास आ गया है। 

एसीआर के लिए 100 नंबर निर्धारित

शासन की ओर से बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों के प्रत्येक शिक्षकों के लिए 100 नंबर निर्धारित किए गए हैं। जो विभिन्न प्रकार के कार्यों के लिए प्रत्येक शिक्षक को दिए जाएंगे।

प्रत्येक शिक्षक की योग्यता का मूल्यांकन करने के लिए ACR की पांच श्रेणी बनाई गई है। यह पांच श्रेणियां इस क्रमानुसार हैं - उत्कृष्ट, अति उत्तम, उत्तम, संतोषजनक और खराब श्रेणी।

अब ऐसे शिक्षक जिनकी योग्यता का मूल्यांकन करने पर 50% से कम अंक प्राप्त होंगे, उन्हें खराब श्रेणी में रखा जाएगा और इन्हीं शिक्षकों को सरकार के तरफ से मिलने वाली सरकारी सुविधाओं से वंचित कर दिया जाएगा।

कैसे मिलेगा ACR नंबर?

एसीआर में मिलने वाला नंबर ग्रेडिंग सिस्टम पर आधारित होगी। प्रत्येक शिक्षक को उसकी योग्यता के मूल्यांकन के आधार पर A+, A, B, C और D ग्रेड दिए जाएंगे। 

ऑपरेशन कायाकल्प के तहत विद्यालय में व्यवस्थापन की स्थिति सुधारने के लिए 10 अंक, शिक्षकों की विद्यालय में उपस्थिति 80% से अधिक होने पर 10 अंक, 80% से कम उपस्थिति पर 5 अंक प्रदान किए जाएंगे।

नोट -
1- बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से एसीआर रिपोर्ट बनाने में किया गया बदलाव।
2- अब 100 नंबर के आधार पर तैयार की जाएगी एसीआर रिपोर्ट।

Post a Comment

0 Comments