ओबीसी छात्रों के स्कॉलरशिप के लिए योगी ने दिए 175 करोड़ रुपए

ओबीसी छात्रों के स्कॉलरशिप के लिए 175 करोड़ रुपए

जैसा की आप सभी को जानकारी होगी कि अभी तक सामान्य जाति, अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं को स्कॉलरशिप प्रदान की जा चुकी है। इसके अलावा ओबीसी के भी कुछ छात्र छात्राओं को स्कॉलरशिप की सुविधा प्रदान की गई है लेकिन ओबीसी में कुछ ऐसे भी छात्र थे जिनको स्कॉलरशिप की पूर्ति अभी तक नहीं की गई है।

UP scholarship update

कुछ छात्रों का स्कॉलरशिप का स्टेटस सस्पेक्ट दिखाने के कारण भी स्कॉलरशिप प्रदान नहीं हुई है। ऐसे छात्र जिनका स्कॉलरशिप का स्टेटस सस्पेक्ट दिखा रहा था उनको दोबारा से स्कॉलरशिप में सुधार के लिए स्कॉलरशिप की वेबसाइट खोली गई थी।

स्कॉलरशिप के लिए योगी ने दिए 175 करोड़

अब ऐसे छात्र जिन्होंने अपनी स्कॉलरशिप की स्टेटस को ठीक करवा लिया है उनके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 175 कर रुपए स्कॉलरशिप का बजट बढ़ा दिया है।

तो ऐसे छात्र जिनका स्कॉलरशिप का स्टेटस सही दिखा रहा है उनको अगले महीने तक स्कॉलरशिप प्रदान की जा सकती है क्योंकि बजट की समस्या को दूर कर ली गई है। हालांकि कुछ ऐसे भी छात्र थे जिनको सिर्फ आधा ही स्कॉलरशिप मिली है तो उन छात्रों को भी दोबारा स्कॉलरशिप मिल सकती है।


मार्च महीने के अंत तक मिलेगी स्कॉलरशिप

पिछली बार जब ओबीसी के छात्रों को स्कॉलरशिप प्रदान की जा रही थी, तब लगभग 1000000 ऐसे छात्र थे जिनको स्कॉलरशिप नहीं मिल पाई थी तो अब उन छात्रों को मार्च महीने के अंत तक स्कॉलरशिप मिल जाएगी।

एक ओर जहां सामान्य जाति के छात्र-छात्राओं को सिर्फ 33% अंक पर ही स्कॉलरशिप मिल गई थी, वहीं दूसरी ओर बात करें तो ओबीसी के छात्र-छात्राओं की 66% अंक पर भी छात्रवृत्ति नहीं मिल पाई थी।

स्कॉलरशिप के लिए मांगे 900 करोड़ रुपए

ओबीसी के इन सभी छात्र छात्राओं के लिए अन्य पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग ने सरकार से 900 करोड रुपए मांगे थे पर सरकार ने सिर्फ ₹175 करोड़ ही दिए। और ओबीसी के जिन छात्र-छात्राओं को स्कॉलरशिप मिली भी तो उन्हें आधी से भी कम स्कॉलरशिप दी गई।

अब देखना यह होगा कि क्या ओबीसी के सभी छात्र छात्राओं को स्कॉलरशिप मिल पाएगी भी या नहीं। अगर मिल जाए तो अच्छी बात है नहीं तो बजट की समस्या तो हर वर्ष बनी ही रहती है।


Post a Comment

0 Comments