2,347 परिषदीय विद्यालय दिखेंगे गूगल सर्च पर - updatemart

2,347 परिषदीय विद्यालय दिखेंगे गूगल सर्च पर

Updatemart - सुल्तानपुर जिले के 2,347 बेसिक शिक्षा के परिषदीय विद्यालय आने वाले समय में गूगल सर्च पर दिखेंगे। इसके संबंध में परिषदीय विद्यालयों की जियो टैगिंग कराई जाएगी। इस काम में सुल्तानपुर जिले के बेसिक शिक्षकों को लगाया गया है।

जिले के सभी परिषदीय विद्यालयों को गूगल सर्च पर दिखाने के लिए प्रेरणा पोर्टल के माध्यम से जियो टैगिंग का काम तेजी से कराया जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने दूसरे चरण के कायाकल्प अभियान में स्कूलों के जियो फेंसिंग का डाटा लेना अनिवार्य कर दिया है।

Primary school map

इसके लिए प्रेरणा एप्लीकेशन के नए अपडेट में संशोधन भी किया गया है। ऐप के नए वर्जन में जियो टैगिंग का ऑप्शन जोड़ा गया है। जियो टैगिंग सफलतापूर्वक हो जाने पर गूगल पर सर्च करने पर सभी विद्यालयों की सटीक लोकेशन का पता लगाया जा सकेगा। सुल्तानपुर जिले के इंटीनरेंट टीचर और रिसोर्स टीचर को इस काम के लिए लगाया गया है।

इंटीनरेंट टीचर व रिसोर्स टीचर को सौंपी जिम्मेदारी

प्रेरणा पोर्टल पर कायाकल्प अभियान का डाटा अपलोड करने के लिए जिले के इंटीनरेंट टीचर व रिसोर्स टीचर को पिछले दिनों स्कूली शिक्षा के महानिदेशक विजय किरण आनंद के द्वारा जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रेरणा पोर्टल ऐप पर ऑनलाइन डाटा फीड करने के साथ साथ जियो टैगिंग का भी ऑप्शन दिया गया है, जिसको पूर्ण करना अनिवार्य किया गया है।

स्कॉलरशिप के संबंध में पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग को निर्देश

सर्वशिक्षा अभियान की जिला समन्वयक ऊषा शुक्ला ने कहा- "प्रेरणा पोर्टल पर 29 फरवरी तक कायाकल्प अभियान की डिटेल अपलोड करनी है। इसके लिए इंटीनरेंट टीचर एवं रिसोर्स टीचर को विद्यालय तक पहुंचकर डाटा अपलोड करना होगा। साथ ही जियो टैगिंग भी करनी होगी।"


मिलेगा 2500 मोबिलिटी भत्ता

इंटीनरेंट टीचर व रिसोर्स टीचर को जियो टैगिंग व प्रेरणा एप्लीकेशन पर डाटा अपलोड करने के लिए 2500 रुपये मोबिलिटी भत्ता भी दिया जाएगा। मोबिलिटी भत्ते का भुगतान कार्य की समाप्ति पर डिटेल रिपोर्ट जिला मुख्यालय पर जमा करने के बाद किया जाएगा।


Post a Comment

0 Comments